Connect with us

Uttar Pradesh

एयू स्माल फाइनेंस बैंक ने शुरू किया व्यापक कर्मचारी कल्याण कार्यक्रम

Published

on

एयू स्माल फाइनेंस बैंक ने शुरू किया व्यापक कर्मचारी कल्याण कार्यक्रम

लखनऊ।एयू स्माल फाइनेंस बैंक ने कोविड का शिकार हुए मृत कर्मचारियों के परिवारों की ओर समय पर मदद का हाथ बढ़ा कर अपने त्रि-आयामी प्रिवेंशन-क्योर-सिक्योरिटी (पीसीएस) कार्यक्रम के साथ कुछ प्रमुख लाभ जोड़े हैं, जिससे यह कार्यक्रम सभी बैंकों के बीच सबसे व्यापक कर्मचारी कल्याण योजना बन गया है। अपने कर्मचारियों तथा उनके परिवारों को वित्तीय, मेडिकल और शैक्षिक सहायता प्रदान करना इस योजना का उद्देश्य है।
एयू स्माल फाइनेंस बैंक मुआवजे के रूप में मृतक कर्मचारी के निर्धारित वेतन की 50 प्रतिशत धनराशि उसके परिवार को दो साल तक प्रदान करता रहेगा, जिसकी अधिकतम सीमा 5,00,000 रुपए होगी। बैंक द्वारा उठाया गया एक अन्य महत्वपूर्ण कदम यह है कि उसने मृत कर्मचारियों के उत्तराधिकारियों को निवेश करने तथा निवेश न किए गए ईएसओपी को इस्तेमाल करने का अधिकार दे दिया है। इन दोनों उपायों का उद्देश्य उन कर्मचारियों के परिवारों को सहायता प्रदान करना है, जो कोविड-19 का शिकार हो कर दम तोड़ चुके हैं।
इसके अलावा मृत कर्मचारी (कोविड या अन्य किसी वजह के चलते हुई मौत) के बच्चों (दो संतानों तक) की ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई-लिखाई का खर्च बैंक जरूरत के आधार पर वहन करेगा। इस योजना के तहत बैंक प्री-ग्रेजुएशन की पढ़ाई करने के लिए दोनों बच्चों को अलग-अलग 5,000 रुपए तथा उनके ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान दोनों को अलग-अलग 10,000 रुपए प्रतिमाह देगा। यह विशाल शिक्षा-कोष संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन तथा एयू बैंक के कर्मचारियों द्वारा प्रायोजित किया जाएगा। जिन कर्मचारियों की 1 अप्रैल, 2021 को या उसके बाद कोविड से मृत्यु हुई है, उनके परिवार के नजदीकी सदस्य इन सभी लाभों के पात्र होंगे।
बैंक ने ‘रोकथाम’ वाले दृष्टिकोण के तहत एक नई पहल भी पेश की है, जिसमें कर्मचारियों को मध्यावधि में ग्रुप मेडिक्लेम पॉलिसी के साथ अपने माता-पिता को नामांकित करने की अनुमति होगी।
ये लाभ बैंक द्वारा प्रदान की जा रही उस सहायता से बिल्कुल अलहदा हैं, जो लाइफ इंश्योरेंस, मेडिकल इंश्योरेंस तथा ब्याज मुक्त अग्रिम वेतन, पेड कोविड अवकाश और चिकित्सा की आपात स्थितियों के लिए अतिरिक्त वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने जैसे अन्य वैधानिक लाभों के माध्यम से पहले ही प्रदान की जा रही है।
“पिछले वर्ष पूरे विश्व में खो जाने वाली जिंदगियों और आजीविकाएं खत्म होने के चलते हम दुनिया के साथ एकजुट होकर खड़े हैं। इस साल हमने स्थायित्व वाली अपनी मुख्य पहल के तौर पर अपने कर्मचारियों को वित्तीय सहायता तथा अन्य मदद प्रदान करने के लिए प्रिवेंशन-क्योर-सिक्योरिटी (पीसीएस) कार्यक्रम शुरू किया है। पूरे भारत में कोविड-19 के मामलों की दूसरी लहर के साथ हमने देखा है कि अनगिनत परिवारों को कोई वित्तीय या चिकित्सकीय मदद नहीं मिल सकी। यद्यपि हम समझते हैं कि दुनिया की कोई भी वित्तीय मदद प्रियजनों की मौत की भरपाई नहीं कर सकती, लेकिन एक संगठन के रूप में हमारे लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम परिवारों के साथ खड़े हों, ताकि उन्हें अपने दुख से निजात पाने में मदद मिल सके और वे बेहतर कल की तैयारी कर सकें।“- कहना है एयू स्माल फाइनेंस बैंक के एमडी और सीईओ श्री संजय अग्रवाल का।
बैंक नामांकन के लिए सक्रिय कदम उठा रहा है और उन कर्मचारियों की ओर से पहले वर्ष के लिए वार्षिक बीमा प्रीमियम का भुगतान भी करेगा, जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना जैसे कार्यक्रमों में तृतीय पक्ष के पेरोल पर स्टाफ समेत किसी भी योजना के तहत कवर नहीं किए गए हैं।
देश में कोविड के पॉजिटिव मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर बैंक ने एम्पलॉयी वेलफेयर, वेलबीइंग और हैप्पीनेस के लिए अपने एचआर विभाग के भीतर एक अलग प्रकोष्ठ की स्थापना की है, ताकि आइसोलेशन का सही बुनियादी ढांचा बनाने, गुणवत्तापूर्ण भोजन उपलब्ध कराने, परिवहन और दवा संबंधी जरूरतों को पूरा करने में सहायता की जा सके।।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Kushi Nagar

एक सप्ताह से गायब 72 वर्षीय वृद्ध महिला का पोखरे में मिला शव।

Published

on

By

एक सप्ताह से गायब 72 वर्षीय वृद्ध महिला का पोखरे में मिला शव।

 

एक सप्ताह से गायब 72 वर्षीय वृद्ध महिला का पोखरे में मिला शव।

एक सप्ताह से गायब 72 वर्षीय वृद्ध महिला का पोखरे में मिला शव।

 

रिपोर्ट:जिला अपराध संवाददाता अविनाश सिंह

 

कुशीनगर।जनपद के अहिरौली बाजार थाना क्षेत्र अन्तर्गत स्थित ग्राम भलुही निवासी 72 वर्षीय वृद्ध महिला का पोखरे में मिला शव।प्राप्त जानकारी के मुताबिक भलुही गांव के लोहवा टोला स्थित पोखरी में गांव की ही 72 वर्षीय बुजुर्ग महिला जानकी देवी का शव मिला है जो एक सप्ताह पूर्व घर से निकली थी और परिजन इनकी तलाश कर रहे थे। बुधवार को नित्य क्रिया कर्म के लिए जा रहे लोगों ने पोखरे में इस बुजुर्ग महिला के शव पोखरे में उतराते देखा और यह खबर बड़ी तेजी से गांव और आसपास फैली। जिसके बाद लोग वहां जुट गए मृतक महिला की शिनाख्त जानकी देवी पत्नी स्वर्गीय मोती लाल गौड़ उम्र 72 वर्षीय निवासी भलुही लोहवा टोला की के रूप में हुई।इसके बाद किसी ने पुलिस को सूचना दी।सूचना मिलने पर स्थानीय थाने से अपराध निरीक्षक राम दरस आर्या कांस्टेबल अनिल यादव मौके पर पहुंचे शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Continue Reading

Gorakhpur

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

Published

on

By

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा
महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

नगर पंचायत प्रत्याशी उषा ने अर्थी को दिया कंधा, बोली मैं भी हुं साथ

 

रिपोर्ट: ज्ञानेंन्द्र कुमार पाण्डेय

 

कुशीनगर।देश की आधी आबादी में महिलाएं भी अब हर क्षेत्र में पुरुषों की बराबरी कर रही है।चाहे वो खुशी का मामला हो या फिर दुख का।हालांकि इसमें घर के पुरुषों का भी समर्थन प्राप्त है तभी ऐसा संभव हो पा रहा है। ऐसा ही कप्तानगंज के पूर्व चेयरमैन अशोक अग्रहरी की पत्नी नगरपंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी उषा अग्रहरी ने अनूठा काम किया जिसकी चहूओर प्रशंसा हो रही।महिला नगर पंचायत प्रत्याशी उषा अग्रहरी को रविवार को एक महिला की निधन की सूचना मिलने पर नगर पंचायत के सुभाष चौक पहुंची और अर्थी को कंधा भी दिया और शोकाकुल परिवार को हरसंभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाई।यहां एक महिला ने अनूठा काम किया।कार्य भी ऐसा जो एक परिवार तो दूर गांव में किसी के घर की महिलाओं ने नहीं किया था।दरअसल नगर पंचायत के सुभाष चौक सबरु कबाड़ी के पत्नी का निधन हो गया जिसकी सूचना पर नगर पंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी उषा अग्रहरी पत्नी अशोक अग्रहरी ने पहुंचकर अर्थी को कंधा देकर मानवता की मिशाल पेश की।इस दौरान उनके समर्थक सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Continue Reading

Gorkhpur

कुशीनगर:दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल। 

Published

on

By

छ:माह पूर्व डीजे की दुकान मे हुए चोरी का पर्दाफाश नही कर सकी पुलिस।

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल।

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल। 

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल।

 

ज्ञानेन्द्र कुमार पाण्डेय

 

कुशीनगर।जिले के अहिरौली बाजार थाने की पुलिस टीम ने रविवार को दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम डुमरी निवासी संजय कन्नौजिया पुत्र पारस कन्नौजिया के ने विरुद्ध स्थानीय थाने में मुकदमा अपराध संख्या 181/ 2022 के तहत भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 376 और 452 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया था जिसमें उसकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही थी और रविवार को उक्त अभियुक्त को पुलिस ने उसे लोहझार चौराहे के पास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक राजेश कुमार हेड कांस्टेबल अरविंद कुमार मौर्य शामिल रहे।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2020 nirvantimes.com , powered by ip digital