Connect with us

Mahrajganj

इस कठिन समय में संगठन अपनी जिम्मेदारी से मुंह नहीं मोड़ सकता : डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी

Published

on

वेतन से कटौती कर मृतक आश्रितों को ‘राहत’ देने की सलाह के खिलाफ महराजगंज के शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने उठाई आवाज

•शिक्षकों द्वारा दिए गए हर साल के करोड़ों रुपयों के चन्दे से सहयोग करे संगठन

महराजगंज।
महराजगंज के शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ दिनेश चंद्र शर्मा को पत्र लिखकर वेतन से कटौती कर मृतक आश्रितों को ‘राहत’ देने की सलाह के खिलाफ आवाज उठाते हुए शिक्षकों द्वारा हर साल संगठन को करोड़ों रूपये दिए जाने वाले चंदे की धनराशि से सहयोग की अपील किया है। उन्होंने कहा है कि चुनाव ड्यूटी के कारण अब तक दिवंगत हुए लगभग 2000 शिक्षक/कर्मियों को सरकार से एक-एक करोड़ का मुआवजा दिलवाइए अन्यथा बेसिक शिक्षकों का संगठन के पास हर साल जमा होने वाले करोडों रूपये वापस कीजिए । जिससे शिक्षक अलग फण्ड बनाकर  खुद ही अपने दिवंगत शिक्षक साथियों की मदद कर लेंगे। उक्त बाते आज महराजगंज के घुघली ब्लाक में कार्यरत शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने एक पत्रकार वार्ता मे दी। शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष को पत्र भेजकर मांग किया है कि निर्वाचन ड्यूटी के कारण दिवंगत शिक्षक-कर्मियों के आश्रितों को उच्च न्यायालय की मंशानुसार तत्काल एक-एक करोड़ की अनुग्रह राशि का भुगतान करवाईए अन्यथा नैतिकता के आधार पर अध्यक्ष के पद से त्यागपत्र दीजिए।
शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने कहा कि कोरोना महामारी के भयंकर प्रकोप के मध्य अपनी जान जोखिम में डालकर बेसिक शिक्षकों ने पंचायत निर्वाचन कार्य सफलतापूर्वक सम्पन्न कराया। प्रशिक्षण से लेकर मतगणना तक कहीं भी कोविड प्रोटोकाल का पालन नहीं किया गया और आप संगठन के मुखिया होते हुए सरकार की हां में हां मिलाते रहे। परिणाम स्वरूप प्रशिक्षण, सामग्री लेते / जमा करते समय, मतदान, मतगणना के दौरान संकमित हुए शिक्षकों को अनुग्रह राशि दिलाने के मुद्दे पर सरकार के साथ आप अपने ही वादे से पीछे हटकर बिना शिक्षकों की मर्ज़ी के खिलाफ एक दिन का वेतन कटौती का तुगलकी फरमान कैसे जारी कर दिए? आपका इस एक निर्णय से आज प्रदेश में संगठन की स्थिता हास्यापद हो चुकी है। जबकि आपको जानकारी होना चाहिए कि उच्च न्यायालय ने भी एक करोड़ अनुग्रह राशि की संस्तुति पहले ही दी थी। आपके संगठन के लिए हर साल करोड़ोंं रूपये चंदा देने वाले दिवंगत शिक्षकों का सम्मान तक नहीं किया गया। इससे शिक्षक समुदाय में आपके प्रति आक्रोश उत्पन्न हो रहा है। प्रदेश भर के शिक्षकों का मानना है कि आपके निष्क्रियता और सरकार से मिलीभगत होकर पिछलग्गू की भाँति संगठन का नेतृत्व चलाने की वजह से सरकार अपनी मन मर्जी करने के लिए स्वतंत्र है । वह हमसे अपने मतलब के सारे कार्य ले रही, यहां तक कि हम अर्जित अवकाश के बदले मिलने वाले ग्रीष्मावकाश में भी हम शिक्षक कई तरह से ड्यूटी कर रहे हैं। महानिदेशक शिक्षकों के लिए आदेश जारी करने लगे हैं। महामारी में ड्यूटी लगने के बावजूद उन्हें कोई संशाधन नहीं दिये जाते और न ही कोरोना वैरियर्स का दर्जा दिया जाता। यही नहीं, कोई हादसा होता है तो शिक्षकों को कोई मुवावजा तक आप नहीं दिला पाते, जबकि महामारी में सबसे अधिक योगदान बेसिक शिक्षकों का है और आप शिक्षकों की राय जाने बिना उनके वेतन से कटौती करवा रहें है। इससे ज्यादा शर्मनाक और सरकार की चापलूसी का उदाहरण और क्या हो सकता है।
डाॅ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षक/कर्मियों ने अपने वेतन से पिछले वर्ष इस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए 76 करोड़ की सहयोग राशि आपके ही कहने पर राज्य सरकार को उपलब्ध करायी थी। महामारी के कारण बेसिक शिक्षकों का जनवरी 2020 से जून 2021 तक कुल 11 प्रतिशत महंगाई भत्ता, लगभग 4000 करोड़ रुपये राज्य सरकार ने फ्रीज कर दिया है। इसमें प्रत्येक शिक्षक ने औसतन रु. 70,000/- का योगदान दिया है। इसके बावजूद सरकार अनुग्रह राशि देने से पीछे हट रही है और आप सरकार के साथ कदमताल कर चापलूसी कर रहें है। यदि यही रवैया रहा तो पूरे उत्तर प्रदेश के शिक्षक मिलकर आपको अध्यक्ष पद का दुरूपयोग करने के आरोप में जबरन हटाने को बाध्य होंगे। हालांकि आपके संगठन द्वारा कतिपय जिलों में शिक्षकों के अपने वेतन की कटौती करके फौरी राहत देने का जो बीच का रास्ता बताया है, उससे मैं कत्तई सहमत नहीं हूँ । यह गलत परिपाटी होगी। हां अगर आपका संगठन अपने स्तर से सहयोग करना चाहता है तो शिक्षकों द्वारा दिए गए हर साल के करोडों रुपयों के चन्दे से आप सहयोग कीजिए, इसमें हमें कोई आपत्ति नहीं है। 
डाॅ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष डाॅ दिनेश चंद्र शर्मा को पत्र में अनुरोध किया है कि हमारे शिक्षक एक नहीं, दो दिन का भी वेतन देने को तैयार हैं और तमाम शिक्षक समूह ऐसा कर भी रहे हैं, लेकिन उससे पहले सरकार से चुनाव के कारण समस्त शहीद बेसिक शिक्षक/कर्मियों (अबतक 2000 से अधिक बेसिक शिक्षक/कर्मी) के आश्रितों को अनुग्रह राशि तत्काल दिलवाने के लिए अपने प्रयासों को तेज कीजिए । यदि सरकार आपकी बात नही मानती है और आपको सफलता नहीं मिलती है तो बेसिक शिक्षको द्वारा सरकार को प्रदत्त 4000 करोड़ +76 करोड़ वापस करवाईए और उससे आकस्मिक बेसिक शिक्षक कोष बनाया जाय। जिससे प्रभावित बेसिक शिक्षकों के आश्रितों को एक-एक करोड़ का भुगतान करने के पश्चात अवशेष धनराशि से भविष्य में कोरोना या आकस्मिक मृत्यु पर हर बेसिक शिक्षक को एक करोड़ की अनुग्रह राशि का भुगतान किया जायेगा। सरकार की तरह आप भी अपनी जिम्मेदारी से मुंह नहीं मोड़ सकते है।

Mahrajganj

निर्वाण टाइम्स, हिंदी दैनिक अख़बार में पत्रकार बनने का महराजगंज जिले में सुनहरा मौका महराजगंज,निचलौल, सिसवा बाजार, ठूठीबारी, घुघुली, परतावल, लक्ष्मीपुर, धानी, बृजमनगंज,कोल्हुई, रतनपुर,मिठौरा,सिंदुरिया,नौतनवा और सोनौली हेड पर ब्लॉक और तहसील स्तर के संवाददाताओं की आवश्यकता है, तेज-तर्रार, अनुभवी और सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले व्यक्ति अपना बायोडाटा 30 दिसम्बर शाम पांच बजे तक ई-मेल rajm329@gmail.com पर भेजें या मोबाइल नंबर 7007839459 whatsapp करें। अनुभवी और योग्य संवाददाताओं को प्राथमिकता दी जाएगी।

Published

on

By

Continue Reading

Mahrajganj

सर्व समाज की हितैषी है भाजपा, वित्त राज्यमंत्री

Published

on

By

भाजपा सरकार में सभी जाति , धर्मो के लोगो को समान रूप से मिल रहा है लाभ- वित्त राज्यमंत्री


महराजगंज। पनियरा नगर पंचायत के चुनाव में भी भाजपा प्रत्याशी को ही जिताएं और एक बार फिर कमल को खिलाएं । नगर पंचायत में जब भ।जपा के चेयरमैन को जीता देंगे तो पनियरा के विकास की रफ्तार और बढ़ जाएगी इसमे कोई संदेह नही है ।
ये बाते भारत सरकार के वित्तराज्य मंत्री व महराजगंज के सांसद पंकज चौधरी ने पनियरा में जनता को संबोधित करते हुए कही । उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में सरकारी योजनाओं को धरातल पर लागू कराया जा है जिससे सभी जाति , धर्मो के लोगो को समान रूप से लाभ मिल रहा है ।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पनियरा के विधायक ज्ञानेन्द्र सिंह ने कहा कि भाजपा ने कभी योगी और मोदी जी ईमानदार हैं इसलिए विकास हो रहा है । घर का मुखिया जब ईमानदार होगा तो उस घर का विकास होगा इसी तरह से देश व प्रदेश का विकास हो रहा है ।
वित्त राज्यमंत्री ने बडवार , पनियरा शिव मंदिर , शीतलपुर के महुअरिया टोला , मंसूरगंज, और अयोध्या से अग्निवीर की भर्ती देख कर गोरखपुर से टेम्पू से घर लौट रहे दुर्घटना में शैलेश पुत्र छेदी निवासी ग्राम मंसूरगंज के बरई टोला निवासी की मौके पर ही मौत हो गई थीं। मृतक युवक के घर जाकर भारत सरकार के वित्तराज्य मंत्री व महराजगंज के सांसद पंकज चौधरी परिजनों से मिले और ढांढ़स बंधाया और घायल युवकों का गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में चल रहे इलाज का समुचित व्यवस्था के साथ करने के लिए मेडिकल कॉलेज के उच्च अधिकारियों से बात किए। व देवीपुर, सुचितपुर बघवना , रूदलापुर , में जनता से भेंट कर सबके दुख सुख को बांटने का कार्य किया । कार्यक्रम के दौरान भाजपा ब्लाक प्रमुख पनियरा प्रमुख संघ जिलाध्यक्ष वेद प्रकाश शुक्ल , पूर्व ब्लाक प्रमुख राजेश जायसवाल उर्फ लल्लू , शेषनाथ उर्फ गुड्डू सिंह , उमेशचन्द्र जायसवाल , राजेश उर्फ बबलू यादव , रूपेश शर्मा , राणा अमरजीत सिंह,राजेश पाल आदि ने माल्यार्पण कर स्वागत किया ।
इस दौरान मौजूद प्रमुख लोगो मे पूर्व ब्लाक प्रमुख जयनाथ सिंह , राजेश्वर मद्देशिया , विरेन्द्र सिंह, ग्राम प्रधान ब्रह्मानंद धारियां, अमरजीत निषाद, मनोज कुमार, सतीश चौहान, पंकज निषाद, जनार्दन सिंह, अंगद सिंह, अदालत सहानी, बीरेंद्र यादव, अवधेश सिंह, रामनिवास निषाद, क्षेत्र पंचायत सदस्य (बी०डी०सी), नीरज कुमार,एकलाख,अजय कुमार निषाद, एबरार अंसारी, कन्हैयालाल यादव, दुर्गेश यादव, जितेन्द्र निषाद,मनोज कुमार यादव, गणेश कुमार प्रजापति, बलराम भारती, बलराम पासवान,अलोक कुमार,जलेश्वर सिंह, सुग्रीव चौहान, उपेन्द्र राणा, दिनेश निषाद, राजू निषाद, संजय कुमार यादव, हरिराम मौर्या, बैरागी सहानी, डब्लू राजभर, चन्दकेश चौहान, नन्दलाल निषाद, पन्ने लाल, पल्टन चौहान, सुरज निषाद, सुनील गुप्ता, हेमंत कुमार, शिवकुमार भारती, धर्मेन्द्र निषाद, रमेश निषाद, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान, भाजपा कार्यकर्ता सहित क्षेत्र की सम्मानित जनता मौजूद रहे। समस्त कार्यक्रम का संचालन अंगद गुप्ता ने किया ।

Continue Reading

Mahrajganj

तेंदुआ के पैर का निशान देख ग्रामीण हुए भयभीत

Published

on

By

पनियरा।
पनियरा थाना क्षेत्र के ग्रामसभा कुआंचाफ के महटोलिया महुआरी महुआपार टोले में तेंदुआ दिखने के बाद ग्रामीण भयभीत हैं।मौके पर वन विभाग की टीम जांच में लगी हुई है। ग्रामीण के अनुसार तीन दिन से तेंदुआ जैसा जानवर दिखाई दिया।जिसे देखकर लोग अपने-अपने घरों में दुबक गये। सुबह लोगों ने उसके पैर का निशान देख पर वन विभाग को सूचना दिया। मौके पर पहुंचे वन कर्मियों ने पद चिन्ह को जांच के लिए भेज दिये है।
 वन क्षेत्राधिकारी जगदंबा पाठक ने बताया कि जंगल नजदीक है कोई जानवर आया होगा। पद चिन्ह की जांच किया गया है। लेकिन यह कन्फर्म नहीं हो पा रहा है कि तेंदुआ है या कोई और जानवर है पद चिन्ह को विभाग में भेज दिया गया है।और ग्रामीणों से अनुरोध किये हैं कि रात में लोग अपने अपने घरों के अन्दर सोयें। और खेत में जाते वक्त चार लोग साथ जायें।वन विभाग के कर्मचारियों को रात्रि में डियूटी लगा दी गयी है।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2020 nirvantimes.com , powered by ip digital