Connect with us

Gorkhpur

सुबह की सैर पड़ सकती है महंगी

Published

on

गोरखपुर ब्यूरो (राघवेन्द्र दास)। सुबह की सैर आपकी सेहत बिगाड़ सकती है। शहर की आबोहवा बेहद ही चिंताजनक स्थिति में पहुंच चुकी है। ऐसे में अब सिर्फ कोरोना से बचाव के लिए ही नहीं, बल्कि प्रदूषण से बचाव के लिए बेहद जरूरी है। शहर इस कदर प्रदूषित है कि इससे एलर्जी व अस्थमा पीड़ित लोगों के साथ-साथ सामान्य लोगों को भी भारी दिक्कतें हो सकती हैं।

जिला आपदा विशेषज्ञ गौतम गुप्ता ने बताया कि कलक्ट्रेट परिसर में पर्यावरण प्रदूषण को मापने के लिए सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकॉस्टिंग एंड रिसर्च (सफर) स्टेशन से बीते चार दिन के पीएम 10, पीएम 2.5 और पीएम 1 के जो आंकड़ें सामने आ रहे हैं वह संतोषजनक पैमाने को काफी पीछे छोड़ चुके हैं। अधिकतर दिनों में सुबह सात बजे से 11 बजे पीएम 10 का पैमाना 850 के आंकड़ें को पार कर चुका है। हालांकि तापमान बढ़ने के साथ इसमें कमी देखी गई है। सबसे कम प्रदूषण रात एक बजे से भोर चार बजे तक है। इस दौरान पीएम-10 180 से 200 के बीच है।
बेहद ही खतरनाक है ये प्रदूषण : सांस के रास्ते शरीर में प्रवेश करते हैं तो काफी खतरनाक स्थिति होती है। आमतौर पर ये वातावरण में बने रहते हैं लेकिन ठंड के समय वातावरण में मौजूद ओस की बूंदों के साथ चिपककर नीचे आ जाते हैं, ऐसे में ये और अधिक खतरनाक हो जाते हैं। पीएम 1, पीएम 2.5 व पीएम 10 के रूप में वर्गीकरण किया गया है। पीएम 1 काफी छोटे कण होते हैं।

बाहर निकलने से बचें, घर पर ही करें व्यायाम
शहर के वरिष्ठ चेस्ट रोग विशेषज्ञ डॉ. वीएन अग्रवाल ने बताया कि एलर्जी या अस्थमा की दिक्कत है तो इस हवा में टहलने से सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। स्ट्रोक पड़ सकता है। अधिक उम्र वाले लोगों, सांस के रोगियों को ठंड अधिक होने पर टहलने से परहेज करना चाहिए। तापमान बढ़ने पर ही घर से बाहर निकलें। यदि सामान्य व्यक्ति भी इस तरह की हवा में लगातार रहेगा तो उसे भी परेशानी हो सकती है। मास्क लगाने से हवा के प्रदूषण से भी बचा जा सकता है।
इंसान के बाल से भी 70 गुना पतला होता है पीएम-1
वायु प्रदूषण के लिए बहुत हद तक जिम्मेदार पार्टिकुलेट मैटर (पीएम) 2.5 और पीएम-10 को माना जाता है लेकिन अब तक एक महत्वपूर्ण और बेहद खतरनाक कण को नजरअंदाज कर दिया जाता है, जिसे पीएम-1 कहा जाता है। पीएम 2.5 इंसान के बाल की मोटाई की तुलना में लगभग 30 गुना महीन है जबकि पीएम 1 इंसान के बाल की तुलना में 70 गुना अधिक पतला है।
 
अलग-अलग दिनों में वायु प्रदूषण की स्थिति

दिनांक समय पीएम 10 पीएम 2.5 पीएम 1
18/12/2020 07 बजे 742.47 673.02 335.36
17/12/2020 09 बजे 682.49 607.94 227.79
17/12/2020 11 बजे 494.48 345.38 118.09
16/12/2020 07 बजे 852.76 781.76 309.41
16/12/2020 09 बजे 855.96 791.82 313.39
16/12/2020 07 बजे 852.76 781.73 309.65
16/12/2020 10 बजे 855.96 791.82 313.39
15/12/2020 08 बजे 337.45 269.14 105.75

15/12/2020 10 बजे 799.21 658.26 244.37

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DEORIA

दर्जनों चोरियों की खुलासा करने में नाकाम है अहिरौली पुलिस

Published

on

By

दर्जनों चोरियों की खुलासा करने में नाकाम है अहिरौली पुलिस

दर्जनों चोरियों की खुलासा करने में नाकाम है अहिरौली पुलिस

दर्जनों चोरियों की खुलासा करने में नाकाम है अहिरौली पुलिस

 

रिपोर्ट: ज्ञानेंन्द्र पाण्डेय

 

कुशीनगर। जनपद के अहिरौली बाजार की पुलिस चोरियों की खुलासा करने में नाकाम साबित हो रही है।एक तरफ प्रदेश सरकार पुलिस को हर स्तर पर बेहतर बनाने की कोशिश में जुटी हुई है।बावजूद इसके अहिरौली बाजार के थानेदार अपने पुराने ढर्रे पर ही चल रहे है।पुलिस की निष्क्रियता यह है कि क्षेत्र के विभिन्न गांवों में हुई दो दर्जन से अधिक चोरियों का आज तक खुलासा नहीं हो सका। खुलासा करना तो दूर किसी घटना का सुराग तक नहीं लग सकी है।इससे चोरों का हौसला बुलंद है।वहीं एक के बाद एक हो रही चोरियों से लोगों में भय व्याप्त है। एक तरफ जिले के पुलिस अधीक्षक धवल जयसवाल लगातार अभियान चला कर अपराधियों की कमर तोड़ने का कार्य कर रहे हैं।और अपराध पर पूर्ण रूप से विराम से विराम लगाने के लिए लगातार प्रयासरत हैं।तो वहीं अहिरौली बाजार थाने की पुलिस उनके मनसूबे पर पानी फेरने का कार्य कर रही है। जिससे पुलिस महकमे की किरकिरी होती नजर आ रही है। अहिरौली बाजार थाना क्षेत्र में बीते 11दिसंबर को घोड़ादेऊर निवासी वकील कन्नौजिया की पंम्पसेट चोरी हुई,बीते दिनांक 21 दिसंबर की रात मुजडिहा में राजकिशोर कन्नौजिया के घर का ताला तोड़कर हजारों के कपड़े गहने की चोरी,बीते दिनांक सोहरौना निवासी वेद पाण्डेय और रामपुर निवासी करुणाकर मिश्रा की पंम्पसेट चोरी,बीते दिनांक 28 दिसंबर को बरडीहा निवासी मुन्ना कन्नौजिया की ट्रैक्टर की बैटरी चोरी,बीते दिनांक 13 नवंबर को जगदीशपुर निवासी राकेश प्रजापति की पंम्पसेट चोरी,

18 नवंबर को टीकर चौराहे पर एक ही रात में तीन गुमटियों का ताला तोड़कर चोरी,बीते दिनांक 27 नवंबर की रात जगदीशपुर और महुअवा खुर्द चौराहे पर दर्जनों गुमटियों का ताला तोड़कर हजारों की चोरी,बीते दिनांक 29 जून को बरडीहा निवासी रितेश सिंह के डीजे की दुकान में 70 हजार रुपए की मशीन की चोरी,बीते दिनांक 27/12/2022 बंशराज सिंह इंटर कालेज लखिमा में चोरी की असफल प्रयास हुई थी।आदि घटनाओं को खुलासा करना तो दूर है।सुराग भी नहीं लगा सकी लगातार हुई इन घटनाओं से अहिरौली बाजार की पुलिस के कार्यप्रणाली का अंदाजा लगाया जा सकता है।

Continue Reading

Gorkhpur

ग्राम पंचायत के कार्यों का डीपीआरओ ने रात्रि में किया औचक निरीक्षण l

Published

on

By

झंगहा,गोरखपुर

विकास खंड खोराबार के ग्राम पंचायत- जंगल गौरी नंबर, दो उर्फ अमहिया में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना के अंतर्गत ओडीएफ प्लस एवं मॉडल बनाए जाने के उद्देश्य से ग्राम पंचायत – अमहिया का चयन किया गया है l जिसका बृहस्पतिवार की रात्रि में जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर ने औचक निरीक्षण किया l

ग्राम पंचायत द्वारा तैयार की गई कार्य योजनाओ के अनुरूप ग्राम पंचायत में विभिन्न कार्यों का क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत ग्राम पंचायत में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन एवं उसके आर आर सी रिसोर्स रिकवरी सेंटर का निर्माण ग्राम पंचायत द्वारा कराया जा रहा है l जिसमें निर्माण के पश्चात ग्राम पंचायत में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन का कार्य रिक्शा के माध्यम से आर आर सी सेंटर पर किया जाना है l जिसका निरीक्षण अचानक जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर द्वारा मौके पर पहुंचकर किया गया। जो भी कार्य ग्राम पंचायत द्वारा कराया गया था। उसे ग्राम प्रधान के द्वारा निरीक्षण के दौरान दिखाया गया। शासन के द्वारा संबंधित कार्यों के निर्माण के निमित्त धनराशि निर्गत कर दी गई है तथा प्रत्येक तीसरे दिवस पर धनराशि एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा की जा रही है।

इस क्रम में शासन की मंशा के अनुरूप कार्यों को पूर्ण कराने एवं पारदर्शिता बनाए रखने तथा गुणवत्ता का औचक निरीक्षण डीपीआरओ द्वारा किया गया।

निरीक्षण में ग्राम पंचायत जंगल गौरी नंबर 1 में बन रहे कॉमन सर्विस सेंटर का भी निरीक्षण किया गया। सर्विस सेंटर का निर्माण ग्राम पंचायत द्वारा पूर्व में निर्मित पंचायत भवन के छत पर निर्माण कराया जा रहा है। वर्तमान में दिवाल का निर्माण कर लिया गया है। जिसमें प्लास्टर एवं विद्युतीकरण का कार्य किया जाना बाकी है। कॉमन सर्विस सेंटर के निर्माण होने से ग्राम पंचायतों के लोगों के सुविधाओ को उपलब्ध कराया जाना तथा पंचायत सहायकों के माध्यम से सभी प्रकार के योजनाओं के क्रियान्वयन का संचालन के उद्देश्य से बनाया जा रहा है।

ग्राम पंचायत में ऑपरेशन त्रिनेत्र के अंतर्गत लगाये जा रहे कैमरो का भी निरीक्षण किया गया ग्राम पंचायत जंगल गौरी नंबर 1 में 2 कैमरे ग्राम पंचायत द्वारा लगाया गया है, जिसका संचालन एक निश्चित बिंदु से किया जा रहा है।

निरीक्षण के दौरान निर्माण कार्यों के भुगतान के लिए भी निर्देश दिया गया। ग्राम पंचायत के निर्माण कार्यों के देखरेख के लिए शासन द्वारा लगाए गए कंसलटिंग इंजीनियर को भी निर्देशित किया गया कि निर्माण के दौरान नियमित रूप से गुणवत्ता का परीक्षण करते रहे। निर्माण कार्यों में गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर ने बताया कि कार्यों के संबंध में धनराशि की कोई कमी नहीं है, आवश्यकता पड़ने पर दूसरे फंडों से भी पैसे का निर्माण कार्यों में उपयोग ग्राम पंचायतें कर सकती है। इसके लिए ग्राम पंचायत स्वतंत्र हैं। निर्माण कार्यों के निरीक्षण के दौरान जिला समन्वयक बच्चा सिंह, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण शशिभूषण सिंह ,ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के कंसलटेंट तथा ग्राम प्रधान अरविन्द सिंह, ग्राम प्रधान सुमित कुमार पटेल सहित कई लोग उपस्थित रहे l

Continue Reading

Gorkhpur

सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके मनाएं नववर्ष: अखिल कुमार

Published

on

By

सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके मनाएं नववर्ष: अखिल कुमार

सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके मनाएं नववर्ष: अखिल कुमार

सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके मनाएं नववर्ष: अखिल कुमार

 

रिपोर्ट: ज्ञानेंन्द्र कुमार पाण्डेय

 

गोरखपुर।अपर पुलिस महानिदेशक,गोरखपुर जोन ने आगामी नूतन वर्ष-2023 के आगमन के अवसर पर गोरखपुर जोन की समस्त जनता को अग्रिम बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए अपील की है कि नये वर्ष का सेलिब्रेशन सुरक्षित,वैधानिक,नैतिक, सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण तरीके से करें तथा इस निमित्त कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस का सहयोग करें। इसके अतिरिक्त जोन के सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षकगण को नये वर्ष पर कानून एवं शान्ति व्यवस्था चुस्त- दुरूस्त रखने हेतु अधोलिखित कड़े निर्देश भी निर्गत किये गये हैं।एडीजी जोन ने कहा कि डीजे एवं अन्य ध्वनि विस्तारक यंत्रों को न्यायालय द्वारा दिये गये निर्देश पर रात्रि 10 बजे के बाद डीजे आदि किसी भी दशा में न चलाया जाए, साथ ही कोई भी ध्वनि/ संगीत इतनी अधिक तीव्रता में न चलायी जाए जिससे आम जनमानस को परेशानी का सामना करना पड़े।नये वर्ष के आगमन पर जनता द्वारा किये जाने वाले सेलिब्रेशन को सुरक्षित, सद्भावपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण बनाने हेतु नए वर्ष की पूर्व संध्या पर 31 दिसम्बर 2022 को सांय 5 बजे से ही अभियान चलाकर भारी संख्या में पुलिस बल की टीमें गठित करें शराब पीने वालों की चेकिंग हेतु ब्रीद एनलाइजर व अन्य जरूरी उपकरण भी हों और सादी वर्दी में पुलिस एवं इंटेलिजेंस की टीमों को भी लगाया जाये जिनका कार्य सार्वजनिक स्थानों, बाजारों, रास्तों, पार्कों, चौराहों, होटलों, सिनेमा हाल एवं मॉल, मोहल्ले के नुक्कड़ों, रेलवे एवं बस स्टेशनों आदि महत्वपूर्ण स्थानों पर सतर्क दृष्टि रखकर शराब पीकर हुड़दंग एवं उदण्डता, वाहन चलाने, बाईक स्टंट बाजी करने, फब्तियां कसने, छेड़खानी करने, झगड़ा लड़ाई करने वाले आदि व अन्य असमाजिक व अराजक तत्वों पर सतर्क दृष्टि रखते हुए सख्त से सख्त कार्यवाही करना होगा। किसी भी दशा में कोई भी अप्रिय घटना घटित न होने पाए। साथ ही यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करें कि नए साल के सेलिब्रेशन पर आम जनमानस को किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या न हो एवं कानून एवं शांति व्यवस्था पूरी तरीके से बनी रहे। सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षकगण तथा जनता को नए वर्ष की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए सुरक्षा का संकल्प लेने हेतु भी निर्देश दिये।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2020 nirvantimes.com , powered by ip digital