Connect with us

LUCKNOW

Published

on


सिडबी के क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ ने बैंक का 32 वां स्थापना दिवस मनाया

भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी), क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ ने 2 अप्रैल, 2022 को सिडबी का “32वां स्थापना दिवस” ​​मनाया।

लखनऊ।इस वर्ष के स्थापना दिवस की थीम “एक साथ हम बढ़ते हैं” रही। इस अवसर पर ग्राहक-सम्‍मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें सिडबी के लखनऊ और कानपुर के ग्राहकों ने भाग लिया। इस अवसर पर बोलते हुए सिडबी के उप प्रबन्ध निदेशक श्री वी. सत्य वेंकटराव ने कहा कि एमएसएमई क्षेत्र को जीवंत, गतिशील और अनुकूल बनाने में सिडबी एक उत्प्रेरक की भूमिका निभाता चला आ रहा है। समावेशी संवृद्धि इसकी मूल भावना रही है। अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए सिडबी ने उत्तर प्रदेश के आगरा और गोरखपुर में दो नई शाखाएं खोली हैं।
श्री राव ने आगे कहा कि कोविड ने हमें विपरीत परिस्थितियों से लड़ना सिखाया है और देश के एमएसएमई अब अपने विकास-पथ पर वापस आ गए हैं। एमएसएमई को त्वरित और कुशल ऋण सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से सिडबी ने अपने सभी परिचालनों का डिजिटलीकरण किया है। अब ग्राहकों के लिए सिडबी एक ऐसी व्यापक और एकीकृत सुविधा प्रदान करता है, जिसमें आवेदन करने, ऑन-बोर्डिंग, मंजूरी, प्रलेखन और ऋण-प्रदायगी की मूलभूत प्रक्रियाएं ऑनलाइन संपन्न की जा सकती हैं। हमारा उद्देश्य सिडबी को एसएमई के लिए पूरी तरह से एकीकृत डिजिटल प्लेटफॉर्म बनाना है। इसके अलावा बैंक ने असेवित और अल्पसेवित घटकों के लिए अपनी संवर्द्धन और विकास संबंधी पहलकदमियों में वृद्धि की है, जिसके लिए उसने राज्य सरकारों तथा अन्य हितधारकों के साथ साझेदारी की है और क्लस्टर विकास कार्यक्रम आरंभ किया है। उत्तर प्रदेश में एमएसएमई पारितंत्र को और अधिक सुदृढ़ करने के बैंक के अधिदेश की राज्य सरकारों ने व्यापक सराहना की है। उत्तर प्रदेश राज्य में एमएसएमई की अधोसंरचना के विकास में सिडबी एक महत्त्वपूर्ण साझेदार हो जाएगा। इस उद्देश्य के लिए यह पहले ही 1000 करोड़ रुपये का वादा कर चुका है।

इस अवसर पर बोलते हुए बैंक के मुख्य महाप्रबन्धक श्री विवेक मल्होत्रा ने बैंक द्वारा विकसित ऋण-प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताया, जिसमें शुरू से अंत तक की समस्त कार्रवाई डिजिटल रूप में संपन्न करके ऋण वितरण कुशलतापूर्वक सुनिश्चित हो पाता है। आगामी वित्तीय वर्ष के दौरान इस क्षेत्र में ऋण प्रवाह बढ़ाने के लिए बैंक की योजनाओं के बारे में भी उन्होंने विस्तार से बताया।
बैंक के लखनऊ क्षेत्रीय कार्यालय के प्रभारी महाप्रबन्धक श्री मनीष सिन्हा ने कहा कि सिडबी एक क्रेडिट प्लस दृष्टिकोण अपना रहा है, जहां न केवल वित्तपोषण, अपितु एमएसएमई पारितंत्र की अन्य जरूरतों को भी पूरा किया जाता है।

सिडबी की नीतियाँ और कार्य राष्ट्र की विकास संबंधी प्राथमिकताओं के अनुरूप रहे हैं। राज्य में एमएसएमई के समग्र विकास के लिए यह उत्तर प्रदेश सरकार के साथ घनिष्ठ सहयोग से काम कर रहा है। उन्होंने उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड राज्यों में एमएसएमई पारितंत्र के विकास व सुधार की दिशा में काम करने के बैंक के संकल्प को भी दोहराया।
अपने स्थापना दिवस समारोह के एक हिस्से के रूप में, सिडबी ने रीहैबिलिटेशन सोसायटी ऑफ द विजुअली इम्पेयर्ड (आरएसवीआई) के दृष्टिबाधित बच्चों को लैपटॉप और अन्य सामग्री भी वितरित की, ताकि ये बच्चे डिजिटल रूप से सक्षम और आत्मनिर्भर बन सकें।


Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LUCKNOW

नारायण हॉस्पिटल पर लगा अवैध संचालन करने का आरोप

Published

on

By

लखनऊ(सं)। सूबे की राजधानी लखनऊ में श्री नारायण हॉस्पिटल 655 ए/ 4/904ए अभिनव गर्ल्स इंटर कॉलेज पहाड़पुर चौराहा कुर्सी रोड गायत्री पुरम लखनऊ पर अवैध रूप से संचालन करने का आरोप लगा है।

बताते चलें मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से जुड़ा है,जहां पर एक व्यक्ति द्वारा मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन तथा स्वास्थ्य मंत्री उत्तर प्रदेश शासन एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी लखनऊ को पत्र भेजकर जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की है। शिकायतकर्ता ने बताया कि उक्त हॉस्पिटल अवैध तरीके से बिना किसी डॉक्टर के संचालन किया जा रहा है तथा हॉस्पिटल कॉलोनी के अंदर बिना किसी मानक के रैबिट किराए की बिल्डिंग में अवैध तरीके से हॉस्पिटल का संचालन हो रहा है एवं बिना किसी विभाग से एनओसी लिए ही फर्जी तरीके से मानक विहीन बिल्डिंग में तथा बगैर किसी प्रशिक्षण संस्थान से शिक्षा प्राप्त किए ही लड़के जो कि कक्षा बारहवीं तथा आठवीं तक ही शिक्षा ग्रहण किए हैं ऐसे लोग उक्त हॉस्पिटल में मरीजों का इलाज कर रहे हैं, जिससे कि मरीजों की जान को खतरा मंडरा रहा है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि बिना किसी जांच-पड़ताल के यहां पर दवा किया जाता है तथा मरीजों के साथ दुर्व्यवहार किया जाता है हॉस्पिटल के मानक अनुरूप कोई भी उपकरण उपलब्ध नहीं है।

Continue Reading

Gorakhpur

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

Published

on

By

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

महिला के निधन पर उषा अग्रहरी ने दिया अर्थी को कंधा

नगर पंचायत प्रत्याशी उषा ने अर्थी को दिया कंधा, बोली मैं भी हुं साथ

 

रिपोर्ट: ज्ञानेंन्द्र कुमार पाण्डेय

 

कुशीनगर।देश की आधी आबादी में महिलाएं भी अब हर क्षेत्र में पुरुषों की बराबरी कर रही है।चाहे वो खुशी का मामला हो या फिर दुख का।हालांकि इसमें घर के पुरुषों का भी समर्थन प्राप्त है तभी ऐसा संभव हो पा रहा है। ऐसा ही कप्तानगंज के पूर्व चेयरमैन अशोक अग्रहरी की पत्नी नगरपंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी उषा अग्रहरी ने अनूठा काम किया जिसकी चहूओर प्रशंसा हो रही।महिला नगर पंचायत प्रत्याशी उषा अग्रहरी को रविवार को एक महिला की निधन की सूचना मिलने पर नगर पंचायत के सुभाष चौक पहुंची और अर्थी को कंधा भी दिया और शोकाकुल परिवार को हरसंभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाई।यहां एक महिला ने अनूठा काम किया।कार्य भी ऐसा जो एक परिवार तो दूर गांव में किसी के घर की महिलाओं ने नहीं किया था।दरअसल नगर पंचायत के सुभाष चौक सबरु कबाड़ी के पत्नी का निधन हो गया जिसकी सूचना पर नगर पंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी उषा अग्रहरी पत्नी अशोक अग्रहरी ने पहुंचकर अर्थी को कंधा देकर मानवता की मिशाल पेश की।इस दौरान उनके समर्थक सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Continue Reading

Gorkhpur

कुशीनगर:दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल। 

Published

on

By

छ:माह पूर्व डीजे की दुकान मे हुए चोरी का पर्दाफाश नही कर सकी पुलिस।

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल।

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल। 

दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल।

 

ज्ञानेन्द्र कुमार पाण्डेय

 

कुशीनगर।जिले के अहिरौली बाजार थाने की पुलिस टीम ने रविवार को दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम डुमरी निवासी संजय कन्नौजिया पुत्र पारस कन्नौजिया के ने विरुद्ध स्थानीय थाने में मुकदमा अपराध संख्या 181/ 2022 के तहत भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 376 और 452 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया था जिसमें उसकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही थी और रविवार को उक्त अभियुक्त को पुलिस ने उसे लोहझार चौराहे के पास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक राजेश कुमार हेड कांस्टेबल अरविंद कुमार मौर्य शामिल रहे।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2020 nirvantimes.com , powered by ip digital